0012

यूपी मे बीजेपी की प्रचंड जीत, नगर निगमों की 16 में से 14 सीटों पर कब्ज़ा

 

यूपी निकाय चुनाव के नतीजे लगातार आ रहे है. अब तक की बड़ी खबर ये है कि 14 नगर निगमों पर भाजपा का कब्जा हो गया है. वहीं, अलीगढ़ में बसपा ने जीत दर्ज की है. बसपा प्रत्याशी मो. फुरकान ने भाजपा उम्मीदवार को 10,445 मतों से हराया.

इसके अलावा मेरठ नगर निगम पर भी बसपा ने जीत हासिल की है. भाजपा को इन चुनाव में जनता ने प्रचंड समर्थन दिया है. आगरा, कानपुर, गाजियाबाद व लखनऊ में भाजपा के मेयर प्रत्याशी जीत दर्ज कर चुके हैं. वहीं नए नगर निगम आगरा-मथुरा पर भी भाजपा का कब्जा हो गया है.

भाजपा नेता पार्टी के इस प्रदर्शन पर खुश नजर आ रहे हैं. उनका कहना है कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस चुनाव में मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली परीक्षा पास कर ली है.

0011

यूपी के बुलंदशहर निकाय चुनाव के नतीजे, बीजेपी की धूम बीएसपी भी रेस में

 

यूपी निकाय चुनाव के नतीजे आने शुरू हो गए हैं. यूपी में 22, 26  और 29  नवंबर को वोटिंग हुई. इस चुनाव में 16  नगर निगम 198 नगर पालिका और 438 नगर पंचायत के लिए वोट डाले गए थे. यूपी निकाय चुनाव के नतीजों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अब तक किये काम का परिणाम के रूप में देखा जा रहा है.
  
उन्होंने इन चुनावों में प्रचार की शुरुआत 14 नवंबर को अयोध्या से की थी.  एक महीने में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 26  रैलियां कीं.  इस दौरान वो सभी 16 ज़िलों में गए जहां नगर निगम चुनाव हुए. 2012  में मेयर चुनाव में बीजेपी ने 12  में से 10  सीटें जीती थीं.

यूपी के जनपद बुलंदशहर के औरंगाबाद नगर पंचायत के चेयरमैन पद का पहला रुझान

0010

सौ साल पहलें अंग्रेजो द्धारा जारी किया गया था, यह एक रूपयें का नोट

 

एक रुपया पहली बार 1917 को जारी किया गया था. आज वह पूरे 100  साल का हो गया. सौ साल में देश बदला. गुलाम से आजाद हुआ. इसी तरह रुपए की वैल्यू भी बदली और आज नोटबंदी के बाद करेंसी को लेकर नए सिरे से चीजें चल रही हैं.

अगर हम वैल्यू बदलने की बात करें तो एक मोटे हिसाब ये है कि 1917  में जो एक रुपए की वैल्यू थी वो आज 400 रुपए के बराबर हो गयी है.

यानी सौ साल पहले आप जो सामान एक रुपए में खरीद सकते थे. उसके लिए आपको करीब 390 से लेकर 400 रुपए अदा करने होंगे. जब 1917 में एक रुपया का नोट जारी किया गया था तो उसकी वैल्यू 10.7 gms  चांदी के बराबर थी.

009

हार्दिक पटेल ने कहा, प्रधानमंत्री करेंगे अब गुजरातीयों को इमोशनल ब्लैकमेल

 

टेलीवीजन चैनल आज तक को दिए इंटरव्यू में हार्दिक पटेल ने कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी अब गुजरात की जनता को ब्लैकमेल करेंगे. क्योंकि उनको पता है कि वह गुजरात हार रहे है.

आगे पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए हार्दिक पटेल ने कहा कि पीएम मोदी जज्बाती इसलिए दिख रहे हैं, क्योंकि वो चुनाव हार रहे हैं. हार्दिक पटेल ने यह भी कहा कि सामने दिख रही हार के कारण पीएम मोदी रैली के दौरान भावुक बाते की.

पीएम मोदी की रैली पर सवाल खड़े करते हुए हार्दिक पटेल ने कहा हमे भावुक बाते नहीं पीएम मोदी ये बताय कि उन्होंने पीएम बनने के बाद आखिर क्या किया है?

आपको बता दे कि पीएम मोदी की कल मोरबी में रैली थी. उसके 40 किलोमीटर की दुरी पर ही हार्दिक पटेल एक जन सभा को संबोधित कर रहें थे.

007

प्राची में पीएम मोदी ने कहा, सरदार पटेल नहीं होते तो सोमनाथ मंदिर नहीं होता

 

गुजरात में चुनाव प्रचार जोर शोर से चल रहा है. सभी पार्टीयों के बड़े नेता प्रचार में जुटे हुए है. वहीं पीएम मोदी भी आज गुजरात में अपनी पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करने के लिए उतरे.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात के प्राची में रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जोर दार हमले कियें. पीएम मोदी ने कहा, अगर सरदार पटेल नहीं होते तो सोमनाथ मंदिर भी नहीं होता.

आपको बता दे कि आज राहुल गाँधी सोमनाथ मंदिर गए थे. इसलिए पीएम मोदी के इस बयान को राहुल गाँधी के सोमनाथ मंदिर के दौरे से जोडकर देखा जा रहा है.

पीएम मोदी ने राहुल गाँधी पर निशाना साधते हुए आगे कहा, आज कुछ लोग सोमनाथ को याद कर रहे हैं, मुझे उनसे पूछना है, क्या आप अपना इतिहास भूल गए है?  आपके परिवार के सदस्य, हमारे पहले प्रधानमंत्री वहां पर एक मंदिर बनने के विचार से खुश नहीं थे. 

वहीं दूसरी तरफ गुजरात के मोरबी में पीएम मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री  इंदिरा गाँधी पर भी हमला बोला. मोरबी में पीएम मोदी ने कहा, अच्छा समय हो या बुरा बीजेपी हमेशा मोरबी के लोगो के साथ खड़ी रही है.