992

गुरुग्राम में डेंगू से एक बच्ची की मौत, अस्पताल ने शव के बदले मांगे 18 लाख रूपयें

 

देश के राजधानी दिल्ली से सटे हुए गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल में धांधली का मामला सामने आया है. अस्पताल में डेंगू से पीड़ित एक सात साल की बच्ची ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.

हैरानी की बात यह है कि डेंगू के इलाज में 18 लाख रूपयें का बिल अस्पताल के तरफ से पेश किया गया है. इलाज में 18 लाख रूपयें खर्च होने के बाबजूद डॉक्टर बच्ची की जान नहीं बचा सकें.

बेशर्मी की बात यह है कि अस्पताल के तरफ से परिवार वालों बच्ची का शव देने से मना कर दिया गया. अस्पताल की तरफ से कहा गया कि पहलें बिल के 18 लाख रूपयें चुकाने होंगे. उसके बाद बच्ची का शव दिया जायगा.

किसी सेवन स्टार होटल जैसी शानदार बिल्डिंग और आधुनिक सुविधा से लैश अस्पताल होने के बाबजूद डॉक्टर एक बच्ची की जान नहीं बचा सके. वहीं दूसरी तरफ बच्ची के माता पिता डॉक्टरों पर इलाज के दौरान लापरवाही का आरोप लगा रहे है.

आपको बताते है मामला क्या है?

दिल्ली के द्धारका निवासी जयंत सिंह की सात वर्षीय बेटी आद्या सिंह को डेंगू हो गया था.  जिसके चलते उसको रॉकलैंड में भर्ती कराया गया था.  जहां से उसको कोई फायदा नहीं हुआ. इसके बाद उसे दिल्ली से सटे गुरुग्राम स्थित फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट रेफर कर दिया गया था.

आदया को 31 अगस्ते को डेंगू होने के चलते फोर्टिस अस्पइताल में भर्ती कराया गया था. और 14 सितंबर को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. आदया अपने माता-पिता के साथ द्धारका में रहती थी. बच्ची के परिवारवालों ने अस्पताल पर आरोप लगाया है?
कि उनकी बेटी को तीन दिन तक वेंटिलेटर पर रखा गया. जबकि उस पर इलाज का कोई असर नहीं हो रहा था.

991

शिया वक्फ बोर्ड का फार्मूला कहा मंदिर अयोध्या में और मस्जिद लखनऊ में बने

 

अयोध्या में राम मंदिर को लेकर शिया वक्फ बोर्ड की तरफ से बयान जारी किया गया है. बयान में अयोध्या विवाद का हल बताया गया है. जारी हुए बयान में कहा गया है कि अयोध्या में विवादि स्थल पर राम मंदिर बनाया जाए.

जबकि मस्जिद लखनऊ में बनायी जाए. और मस्जिद का नाम किसी भी राज या शासक के नाम पर न रखा जाए. बल्कि मस्जिद का नाम मस्जिद-ए-अमन नाम रखा जाए.

शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी  का कहना है कि विवादित स्थल पर यानि अयोध्या में राम मंदिर का बनें. ताकि हिंदू और मुस्लिम के बिच का झगड़ा खत्म हो जाए. और देश में अमन और शांति कायम रहे.

शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार हमें 1 एकड़ जमीन लखनऊ के मोहिया कराए. ताकि हम मस्जिद-ए-अमन का निर्माण करा सकें.

988

कांग्रेस ने जारी की स्टार प्रचारकों की लिस्ट, ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर को भी मिली जगह

 

गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए प्रचार की कमान अब तक पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ही संभाल रखी थी.  लेकिन अब पार्टी की ओर से 40  स्टार प्रचारकों की एक लिस्ट भी जारी कर दी गई है.

पार्टी के स्टार प्रचारकों लिस्ट में 40 वें स्थान पर ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर को भी शामिल किया गया है. इस लिस्ट में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का भी नाम है जो स्वास्थ्य कारणों से अब तक गुजरात में पार्टी के प्रचार से दूर रही हैं.

कांग्रेस पार्टी ने रविवार को उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की थी. कांग्रेस पार्टी ने अपनी पहली लिस्ट में 77 उम्मीदवारों को टिकिट दिया है.

आपको बता दे कि कांग्रेस पार्टी गुजरात में अपना पूरा दम खम लगा रही है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी अभी तक गुजरात में नवसृजन यात्रा के चार चरण पूरा कर चुके है. जिसके दौरान राहुल गाँधी ने राज्य के अलग-अलग इलाको में रोड शो और रैलियां कर बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमले बोले है.

987

अब एक दिसंबर को रिलीज़ नहीं होगी पद्मावती, अधूरे आवेदन के चलते सेंसर बोर्ड ने वापस लौटाया

 

कई विवादों में फंस चुकी पद्मावती के निर्माताओं से सेंसर बोर्ड बेहद नाराज है. नाराजगी की वजह निर्माताओं द्धारा फिल्म की प्राइवेट स्क्रीनिंग्स हैं. अभी तक सेंसर बोर्ड ने फिल्म का रिव्यू नहीं किया है. प्रसून जोशी ने प्राइवेट स्क्रीनिंग को लेकर इंडि‍या टुडे से कहा, 'सेंसर बोर्ड ने अभी तक फिल्म देखी भी नहीं है. और ना ही फिल्म को प्रमाणि‍त किया गया है.

ऐसे में मेकर्स द्धारा प्राइवेट स्क्रीनिंग करना और नेशनल चैनलों पर फिल्म की समीक्षा करना बेहद निराशाजनक है. ये सिस्टम की प्रक्रिया के खि‍लाफ समझौते जैसा है. 

एक तरफ फिल्म की रिलीज प्रक्रि या में तेजी लाने के लिए सेंसर बोर्ड पर दवाब डाला जा रहा है और दूसरी तरफ सेंसर के प्रोसेस को ही नष्ट करने का प्रयास हो रहा है.  प्रसून जोशी ने कहा यह एक अवसरवादी उदाहरण पेश करने जैसा है.

प्रसून ने कहा  कि इस केस में एक हफ्ते पहले ही फिल्म के रिव्यू को लेकर चिट्टी मिली है. मेकर्स को ये बात पता है और उन्होंने कबूला भी है कि फिल्म को लेकर पेपर वर्क अभी अधूरा है.

985

ग्रेटर नॉएडा में चलती टैक्सी में लड़की के साथ गैंगरैप और लूटपाट

 

यूपी में कानून-व्यवस्था कितनी लाचार है.  इसकी एक और मिसाल उस वक्त देखने को मिली जब बदमाशों ने दिल्ली से कल देर शाम एक युवती को अगवा किया और फिर उसे उठाकर ग्रेटर नोएडा ले आए.
 
इस दौरान चलती कार में बदमाशों ने युवती के साथ गैंगरेप किया. और लूटपाट भी की गयी. सुबह वे युवती को एक सड़क पर फेंक कर फरार हो गए.

पीड़ित लड़की ने घर जाने के लिए अंसल प्लाजा से एक टैक्सी किराए पर ली थी. सूनसान रास्ते में टैक्सी चालक और उसके एक साथी ने लड़की के साथ बलात्कार किया और उसके गहने तथा पैसे लूट लिए.

पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है.  साउथ दिल्ली के डीसीपी ईश्वर सिंह ने बताया कि मामला बुधवार की रात का है. अंसल प्लाजा से एक लड़की ने रोहणी स्थित अपने घर जाने के लिए एक टैक्सी हायर की थी.