45

RJD स्थापना दिवस पर तेजप्रताप ने कहा, मै पार्टी में सबसे सीनियर नेता

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव का तेवर राष्ट्रीय जनता दल के स्थापना दिवस के अवसर पर एक बार फिर से देखने को मिला है. गुरुवार को उन्होंने खुद को पार्टी का सबसे सीनियर लीडर बताया. उनके इस बयान ने राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव समेत कई नेताओं को भी छोटा बना दिया है.

जब 22 साल पहले लालू प्रसाद यादव ने राष्ट्रीय जनता दल की स्थापना की थी, तब तेजप्रताप यादव महज सात साल के थे. गुरुवार को कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने पार्टी के तथाकथित असामाजिक तत्वों को एक बार फिर सीमा में रहने की चेतावनी भी दी. इस मौके पर वे प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे पर निशाना साधने से भी नहीं चूके.

19

बुराड़ी कांड मामलें में पुलिस अभी तक नहीं जान पाई है, उन 11 पाइपों का राज

पूरे देश को झकझोर कर रख देने वाले बुराड़ी कांड के रहस्य तक अब तक पुलिस भी नहीं पहुंच पाई है. एक ही परिवार के 11 सदस्यों की एक ही रात में अचानक हुई मौत को लेकर जांच में अब तक कई हैरान कर देने वाली बातें सामने आई हैं. घटना के तीन दिन बाद चित्तौड़गढ़ में रहने वाले तीसरे भाई दिनेश सामने आए हैं. हालांकि उन्होंने मौतों के पीछे तंत्र-मंत्र और धर्मांधता या किसी तांत्रिक की बात होने से इनकार किया है.

दिनेश ने घर से बाहर निकले उन 11 पाइपों का रहस्य भी बताया. दिनेश का कहना है कि पाइप से मोक्ष मिलने वाली बात बिल्कुल गलत है. उन्होंने कहा कि दरअसल उनके भाई का प्लाईउड का काम था, इस वजह से काफी काफी गैस बनती थी और इन 11 पाइपों को इसीलिए लगवाया गया था ताकि गैस निकलती रहे.

18

दिल्ली में LG और मुख्यमंत्री के बीच तकरार को लेकर कल आएगा सुप्रीमकोर्ट का फैसला

केंद्र शासित प्रदेश दिल्ली में आखिर किसका शासन चलेगा केंद्र का या राज्य में चुनी हुई सरकार का, इस पर बहस लंबे समय से चलती रही है और अब देश की सबसे बड़ी अदालत इस पर कल ऐतिहासिक फैसला करने जा रही है.

सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक पीठ  इस मसले पर साढ़े दस बजे अपना फैसला सुनाएगी. पांच जजों की संविधान पीठ में चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के साथ जस्टिस एके सीकरी, जस्टिस एएम खानविलकर, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस अशोक भूषण शामिल हैं.

दिल्ली में किसकी हुकूमत चलेगी, इस संबंध में कुल 11 याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई हैं. पिछले साल फरवरी में अधिकारों को लेकर दिल्ली सरकार बनाम उपराज्यपाल मामले को सुप्रीम कोर्ट ने संवैधानिक पीठ को भेज दिया था.

2

ट्रोलिंग विवाद में 10 दिनों बाद सुषमा स्वराज के बचाव में आई सरकार

गृहमंत्री राजनाथ सिंह लखनऊ पासपोर्ट मामले में ट्विटर ट्रोल का शिकार हुईं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के बचाव में उतर आए हैं. राजनाथ सिंह ने ट्विटर पर सुषमा के खिलाफ की जा रहीं अभद्र टिप्पणियों को गलत ठहराते हुए उसकी निंदा की है. केंद्र सरकार की ओर से किसी मंत्री ने सुषमा स्वराज के बचाव में करीब 10 दिनों बाद कोई बयान दिया है.

वहीं इस पूरे विवाद को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के पति स्वराज कौशल ने भी गलत बताया है. सरकार की ओर से इस पूरे मामले पर चुप्पी के बीच राजनाथ सिंह का बयान काफी अहम हो जाता है.

विदेश मंत्री ने 24 जून को ट्वीट कर जानकारी दी थी कि वह भारत से बाहर थीं और उन्हें पासपोर्ट विवाद के बारे में जानकारी नहीं है. इससे पहले उन्हें लगातार ट्विटर पर ट्रोल किया जा रहा था. सुषमा स्वराज ने अपने खिलाफ किए गए कुछ ट्वीट्स को रि-ट्वीट भी किया था.

1

बुराड़ी कांड में हुई 11 लोगों की मौत में तंत्र-मंत्र का शक

दिल्ली के बुराड़ी में हुई 11 लोगों की मौत के मामले में एसडीएम की रिपोर्ट आ गई है. रिपोर्ट के मुताबिक मृतक परिवार तंत्र-मंत्र में शामिल था और घोर अंधविश्वास का शिकार था. एसडीएम की रिपोर्ट से ये खुलासा हुआ है.

इस बीच दिल्ली में 11 मौत का अंधविश्वास कनेक्शन भी सामने आ रहा है, जिस घर में 11 शव मिले उसी घर के पीछे निकले 11 पाइप हर किसी को हैरान कर रहा है. किसी को समझ नहीं आ रहा है कि इस तरह के 11 पाइप क्यों निकला हुआ है.

खबर के साथ लगे फोटो में देख सकते हैं कि किस तरह से घर के बाहर 11 पाइप निकले हुए हैं. इन 11 पाइपों में से 7 पाइप मुड़े हुए हैं जबकि 4 सीधे हैं.