छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को बड़ा झटका, रामदयाल उइके BJP में शामिल

340

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के ऐलान के साथ ही पाला बदलने का सिलसिला भी शुरू हो चुका है. छत्तीसगढ़ कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रामदयाल उइके ने अपनी पार्टी छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह समेत अन्य की मौजूदगी में रामदयाल को बीजेपी में शामिल कराया गया. इसके कांग्रेस के लिए तगड़ा झटका माना जा रहा है.

बता दें कि सूबे के मुख्यमंत्री रमन सिंह चौथी बार सरकार बनाने की कोशिश में हैं. इसके चलते दूसरी पार्टी के दिग्गज नेताओं को अपने पाले में लाने की जोर आजमाइश चल रही है. रामदयाल उइक छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले की पाली-तानाखार विधानसभा सीट से विधायक हैं. इस सीट को कांग्रेस का मजबूत दुर्ग माना जाता है.

पिछले 15 वर्षों से प्रदेश की सत्ता पर काबिज बीजेपी यहां कांग्रेस को हराने में विफल रही है. साल 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी यहां तीसरे नंबर पर रही थी, जबकि कांग्रेस की टिकट पर रामदयाल उइके ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के प्रत्याशी को करीब 19 हजार वोट से शिकस्त दी थी.

रामदयाल उइके को 69,450 वोट मिले थे, जबकि गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के प्रत्याशी हीरा सिंह मरकाम को 40,637 वोट मिले थे. इसके अलावा बीजेपी के श्यामलाल मारवी को 33397 वोट मिले थे. साल 2008 में परिसीमन के बाद पाली-तानाखार विधानसभा सीट अस्तित्व में आई.

इसके बाद हुए चुनाव में कांग्रेस के जयसिंह अग्रवाल विधायक बने थे. ये इलाका बिलासपुर, सूरजपुर और कोरिया जिले की सरहद से लगा हुआ है. आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ में कुल 90 विधानसभा सीटें हैं, जिसमें से 10 सीटें एससी और 29 सीटें एसटी के लिए आरक्षित हैं.

छत्तीसगढ़ में दो चरणों में मतदान होंगे. पहले चरण में 12 नवंबर और दूसरे चरण में 20 नवंबर को वोट डाले जाएंगे. इसके बाद 11 दिसंबर को नतीजे आएंगे. शनिवार को चुनाव आयोग ने छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर चुका है. पहले चरण के मतदान के लिए 16 अक्टूबर को चुनाव अधिसूचना जारी होगी. 23 अक्टूबर को नामांकन पत्र भरने की आखिरी तारीख है और 26 अक्टूबर तक नामांकन वापस लिए जा सकेंगे. इस चरण में 18 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा.

वहीं, दूसरे चरण के मतदान के लिए 26 अक्टूबर को चुनाव अधिसूचना जारी होगी. 2 नवंबर को नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख है, जबकि 5 नवंबर तक नामांकन वापस लिए जा सकेंगे. इस चरण में 72  विधानसभा सीटों पर 20 नवंबर को मतदान होगा. चुनाव में आधुनिक ईवीएम व वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा. साथ ही मतदान की वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी.

छत्तीसगढ़ में कुल 90 विधानसभा सीटें हैं. 2013 में विधानसभा चुनाव बीजेपी को 49, कांग्रेस को 39, बसपा को 1 और अन्य को एक सीट मिली थी. रमन सिंह की अगुवाई में बीजेपी ने पिछले चुनाव में लगातार तीसरी बार कांग्रेस को मात देकर सरकार बनाई थी. छत्तीसगढ़ में कुल 27 जिले हैं. राज्य में कुल 51 सीटें सामान्य, 10 सीटें एससी और 29 सीटें एसटी के लिए आरक्षित हैं.

Add comment


Security code
Refresh