बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने लालू यादव की जमानत रद्द करने की उठाई मांग

290

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सीबीआई से आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की मेडिकल ग्राउंड पर मिली जमानत को खारिज करवाने की मांग की है. सुशील मोदी ने आरोप लगाया है कि लालू यादव को झारखंड हाईकोर्ट ने अपने स्वास्थ्य की जांच कराने के लिए जमानत दी है मगर इस दौरान आरजेडी सुप्रीमो पटना में बैठकर राजनीतिक गतिविधियों में हिस्सा ले रहे हैं जो कि जमानत की शर्तों के विरुद्ध है.

गौरतलब है आरजेडी सुप्रीमो से उनके 10, सर्कुलर रोड आवास पर तेलुगू देशम पार्टी के 3 सांसदों में मुलाकात की थी और उनकी पार्टी के द्वारा संसद में नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ लाए जा रहे अविश्वास प्रस्ताव पर आरजेडी से समर्थन की मांग की थी.

लालू यादव से मुलाकात के बाद तेलुगू देशम पार्टी के तीनों सांसद गल्ला जयदेव, रविंद्र कुमार और गरिकापति मोहन राव ने मीडिया से बातचीत में कहा कि उन्होंने लालू से अविश्वास प्रस्ताव पर बात की और लालू ने तेलुगू देशम पार्टी के इस प्रस्ताव को आरजेडी के समर्थन का आश्वासन दिया.

सुशील मोदी ने कहा कि लालू यादव मेडिकल ग्राउंड पर मिली जमानत की शर्तों का लगातार उल्लंघन कर रहे हैं और पिछले दिनों कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत ने लालू से उनके पटना आवास पर मुलाकात की जिसकी तस्वीरें वायरल हुई थी और अब तेलुगू देशम पार्टी के 3 सांसदों ने लालू से मिलकर राजनीतिक बातचीत की है जिसकी तस्वीरें भी सामने आई हैं.

सुशील मोदी ने सीबीआई से मांग की है कि वह तुरंत इस पूरे मामले का संज्ञान ले और लालू की जमानत को खारिज कराने के लिए झारखंड हाईकोर्ट में अपील करें. सुशील मोदी ने कहा कि लालू द्वारा जमानत की शर्तों का उल्लंघन करना झारखंड हाई कोर्ट की अवमानना है.

सुशील मोदी के हमले का जवाब देते हुए आरजेडी प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव ने कहा कि लालू के खिलाफ जो भी आरोप लगाए जा रहे हैं वह बेबुनियाद हैं और तेलुगू देशम पार्टी के तीनों सांसदों ने आरजेडी सुप्रीमो के स्वास्थ्य के बारे में बातचीत की और कोई राजनीतिक बातें नहीं हुई.

झारखंड हाईकोर्ट ने लालू यादव को मेडिकल ग्राउंड पर मई महीने में 6 हफ्ते के लिए जमानत इस शर्त पर दी थी कि वह इस दौरान कोई राजनीतिक कार्यक्रम या राजनीतिक बातें नहीं करेंगे.

Add comment


Security code
Refresh