लम्बें समय के बाद चुनावी मैदान में उतरी सोनिया गाँधी, बीजेपी पर बोला जमकर हमला

33

सोनिया गांधी मंगलवार को कर्नाटक में कांग्रेस की ओर से चुनाव प्रचार करने उतरीं. उन्होंने बीजापुर में चुनावी सभा की और केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला.

सोनिया गांधी ने करीब 2 साल बाद किसी चुनावी रैली में भाषण दिया है. इससे पहले वह उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले तीन अगस्त 2016 को पीएम मोदी के संसदीय इलाके वाराणसी में रोड शो करने उतरी थीं.

इस दौरान उनकी तबीयत बिगड़ गई और उन्हें एयरलिफ्ट कर तुरंत दिल्ली लाया गया था. इसके बाद से वह चुनाव प्रचार से दूरी बनाए हुए थीं. इस बीच गुजरात और पंजाब समेत कई राज्यों में चुनाव हुए, लेकिन सोनिया ने उनमें भाषण नहीं दिया. इससे समझा जा सकता है कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव कांग्रेस के लिए कितने अहम हैं.

सोनिया ने कर्नाटक में अपनी पहली रैली में पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. यहां उन्होंने कर्नाटक में सिद्धारमैया की सरकार की उपलब्धियां गिनाने से ज्यादा बीजेपी सरकार के चार सालों के कामकाम को अपने निशाने पर लिया. जानिए पीएम मोदी पर उन्होंने कौन से 10 बड़े हमले किए.

आपने सुना होगा कि सिद्धारमैया की सरकार ने इंदिरा कैंटीन भी शुरू की है, जिसमें गरीबों को खाना मिलता है. दुख की बात है कि कांग्रेस के विरोधी हमारी असरदार योजनाओं का विरोध करते हैं. हमने देश भर में लोगों को रोजगार देने के लिए मनरेगा योजना शुरू की थी. तब भी भाजपा और नरेंद्र मोदी जी ने इसका मजाक उड़ाया था.

कर्नाटक में अन्नदाता तमाम कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं, यहां चार सालों में ऐसा सूखा पड़ा, जैसा दस सालों में नहीं पड़ा था. इसलिए आपके मुख्यमंत्री जी ने मोदी जी से समय मांगा ताकि आपको मदद मिल सके.

मोदी जी ने मदद करना तो दूर मुख्यमंत्री से मिलने से भी इनकार कर दिया. मैं मोदी जी से पूछना चाहती हूं कि उन्होंने न केवल सीएम का बल्कि कर्नाटक की जनता का भी अपमान क्यों किया?

जिन राज्यों में सूखा पड़ा, मोदी सरकार ने उन राज्यों को हजारों करोड़ दिए, लेकिन कर्नाटक के किसानों के घावों पर नमक छिड़कते हुए उन्हें सबसे कम पैसा दिया. मैं पूछती हूं, मोदी जी, क्या यही है आपका सबका साथ, सबका विकास? सिद्धारमैया जी ने 22 लाख किसानों के कर्ज माफ किए. इसके अलावा और भी योजनाएं शुरू कीं, जिससे फलों, सब्जियों और मसालों के निर्यात में तीन सबसे अग्रिम राज्यों में शुमार हो गया.

कांग्रेस विकास का काम कर रही है तो मोदी जी चार सालों से कांग्रेस के अच्छे कामों को खत्म कर रहे हैं. मोदीजी पर कांग्रेस मुक्त भारत का जुनून है, उन्हें कांग्रेस मुक्त भारत का भूत लगा है. कांग्रेस मुक्त भारत तो छोड़िए, वह अपने सामने किसी को भी स्वीकार नहीं कर सकते हैं.

Add comment


Security code
Refresh