मोदी और नेतनयाहू जायंगे गुजरात में इजरायल टेक्नोलॉजी से हो रही खेती को देखनें

0091

 

अहमदाबाद से महज 70  किमी. की दूरी पर एक किसान ने इजरायली टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर एक किसान ने ऐसा कमाल किया है कि खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और इजरायली प्रधानमंत्री बेन्जामिन नेतनयाहू  17  जनवरी को उसके खेत को देखने जा रहे हैं.

हिमंतनगर के प्रातिज तहसील के वदराड गांव में कृषि क्षेत्र में भारत और इजरायल के जॉइंट टेक्नोलॉजी के लिए हुए एमओयू के तहत यहाँ एक सेंटर बनाया गया है. 

इस सेंटर में सेंटर फॉर एक्सीलेंस फॉर वेजीटेबल को लेकर  किसानों को  कम मेहनत में ज्यादा कमाई, अच्छी फसल और उत्पादन में गुणवत्ता को सिखाया जाता है.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और इजरायली प्रधानमंत्री बेन्जामिन नेतनयाहू  17 जनवरी को गुजरात आएंगे. इस दौरे को लेकर मंगलवार को गुजरात सरकार के चीफ सेक्रेटरी की अध्यक्षता में एक हाई लेवल मीटिंग हुई जिसमें दोनों देश के प्रधानमंत्रियों में होने वाली मीटिंग और इसकी सुरक्षा को लेकर चर्चा की गई.

सूत्रों के मुताबिक जिस तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापान के प्रधानमंत्री  शिंजो आबे के साथ गुजरात में रोड़ शो किया था. उसी प्रकार इजरायल के प्रधानमंत्री बेन्जामिन नेतनयाहू  के साथ भी ऐसा ही रोड़ शो कर सकते है.

साथ ही साथ दोनों ही देश के प्रधानमंत्री साबरमती गांधी आश्रम, साबरकांठा के वदरडा में हॉर्टीकल्चर फॉर्म का दौरा भी करेंगे.  इस दौरे में कृषि क्षेत्र के कई एमओयू भी साइन होंगे.

बता दे कि इजरायल टेक्नोलॉजी से सब्जियों में सबसे ज्यादा किसानों को फायदा बैंगन, मिर्च, टमाटर, करेला, पत्ता गोभी, फूल गोभी और कलर केप्सीकम(शिमलामिर्च) में हो रहा है.

ऐसे ही समीर पटेल नाम के बीएससी किए ग्रेज्युएट ने अपनी 20  बीघा जमीन में ऐक्सिलेंस सेंटर की मदद से 300  बीघा  जमीन किराये पर लेकर खेती की और एक साल में 50  लाख से ज्यादा कमाई की.  

समीर पटेल ने पूरी जानकारी की यहां कौन-सी फसल को कितना पानी देना है, किस तरहा से उसे बड़ा करना है. साथ ही वह दूसरे किसानों के लिए आदर्श भी बन रहे हैं. किसान उनके पास सीखने के लिए आ रहे हैं. 

Add comment


Security code
Refresh