1000

मधुमेह रोग में चीनी से ज्यादा जरूरी है कैलोरी पर नियंत्रण रखना डॉ अमित छाबड़ा

आज आयोजित एक कार्यक्रम में यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल कौशांबी गाजियाबाद के वरिष्ठ डायबिटीज रोग विशेषज्ञ डॉक्टर अमित छाबड़ा मधुमेह रोग के बारे में जानकारी दी

मौका था विश्व मधुमेह दिवस जो आज ही के दिन विश्व भर में मनाया जाता है

इस स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम में लोगों की डायबिटीज से संबंधित जांचें निशुल्क की गई जिनमें ब्लड शुगर एवं 3 महीने की मधुमेह रोग की जानकारी देने वाले टेस्ट hba1c प्रमुख हैं.
 
आज के कार्यक्रम का विशेष आकर्षण  रहा डायबिटिक तंबोला, डायबिटीज तंबोला के माध्यम से मरीजों को डायबिटीज से जुड़े अनेकों सवाल-जवाब के बारे में खेल खेल में सिखाया गया , हॉस्पिटल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ सुनील डागर ने तम्बोला के विजेताओं को पुरस्कार स्वरुप स्वास्थ्यवर्धक प्रोटीन पाउडर दे कर उन्हें सम्मानित किया  

1002
 
इस अवसर पर यशोदा सुपर स्पेशलिटी कौशांबी गाजियाबाद के ही वरिष्ठ ह्रदय रोग विशेषज्ञ डॉ असित खन्ना ने मधुमेह के रोगियों को जानकारी दी कि वे कैसे हृदय रोगों से बच सकते हैं

वरिष्ठ न्यूरोलॉजिस्ट डॉ सुमन चटर्जी ने लोगों को मधुमेह में  हाथ और पैरों की नसों के कमजोर होने के बारे में जानकारी दी
दंत रोग विशेषज्ञ डॉक्टर अनमोल अग्रवाल दे मधुमेह के रोगियों को अपने दांतो की देखभाल कैसे करें इस बारे में जानकारी  दी

 किडनी रोग विशेषज्ञ डॉक्टर विद्यानंद ने  मधुमेह की वजह से होने वाली किडनी की बीमारियों  के लक्षण एवं बचाव के बारे में बताया

डायटिशियन श्रीमती भावना गर्ग ने मधुमेह के रोगियों को  खान पान के बारे में जानकारी  एवं यह भी बताया कि किस तरह की  डाइट मधुमेह  रोग को होने से  बचा सकती है
वरिष्ठ नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉक्टर नरेंद्र सिंह बी मधुमेह के रोगियों में होने वाले नेत्र रोगों के लक्षण एवं बचाव के बारे में जानकारी  दी
 
मोटे लोगों में मधुमेह की बीमारी को ख़त्म या नियंत्रित करने में बैरिएट्रिक एवं  मेटाबॉलिक सर्जरी के बारे में डॉ सुशांत वढेरा ने लोगों को जानकारी दी 
लोगों के सवालों का जवाब देते हुए डॉ अमित छाबड़ा ने कहा कहा कि यदि एक बार मधुमेह हो जाए तो उसे खत्म नहीं किया जा सकता केतु अपनी जीवन शैली एवं खानपान एवं उचित डॉक्टरी देखभाल से उसको नियंत्रित रखा जा सकता है और मरीज एक क्वालिटी लाइफ जी सकता है

डॉक्टर छाबड़ा ने जोर देते हुए कहा कि हम सामान्यतः मधुमेह रोग से बचने के लिए चीनी खाना कम कर देते हैं किंतु यह सही नहीं है चीनी से ज्यादा हमें कैलोरी का ध्यान रखना चाहिए जैसे कि पराठे में चीनी नहीं होती लेकिन उसमें कैलोरी की मात्रा बहुत ज्यादा होती है ऐसे में वह पराठा यदि किसी को डायबिटीज होने का खतरा बना हुआ है तो उसके लिए घातक सिद्ध हो सकता है
 
1001
 
डॉक्टर छाबड़ा ने कहा कि बैलेंस डाइट एवं 2-3 घंटे के अंतर पर  खाना खाना मधुमेह को नियंत्रित रखने के लिए एक अच्छा उपाय है

डॉक्टर छाबड़ा ने तनाव को डायबिटीज का एक प्रमुख कारण बताया और कहा की पारिवारिक या कार्य से जुड़ा हुआ या अन्य किसी भी प्रकार का तनाव डायबिटीज करने के लिए एक प्रमुख कारण हो सकता है
Madan

'दिल्ली के शेर' को नमन

'दिल्ली के शेर' कहे जानेवाले, कर्मठ, जुझारू, दूरदर्शी एवं लोकप्रिय पूर्व मुख्यमंत्री श्री मदनलाल खुराना जी को जन्म जयंती पर शत्-शत् नमन एवं श्रद्धांजलि।

राजनीति में शून्य से शिखर तक की यात्रा करनेवाले खुराना जी का पूरा जीवन हमें ‘प्रयोग से सिद्धि’ के मार्ग पर चलाना सिखाता है। आप ऐसे दूरदर्शी राजनेताओं में गिने जाते हैं, जिन्होंने न केवल अनेक जनकल्याणकारी स्वप्न देखे, बल्कि चुनौतियों को स्वीकार करते हुए, सटीक रणनीति और अथक प्रयासों से अपने जीवनकाल में ही उन्हें धरातल पर भी उतारा। 

इंदिरा जी की हत्या के बाद सन् 1984 के आम चुनाव में कांग्रेस के प्रति लोगों की सहानुभूति के कारण भाजपा की बुरी तरह पराजित हुई थी। तब खुराना जी ने मुझ जैसे लाखों कार्यकर्ताओं के मन में आशा का दीप जलाया और हमने दिल्ली में ‘विधायिका की व्यवस्था’ के लक्ष्य के साथ नये सिरे से कार्य शुरू किया था। यह उनके कुशल नेतृत्व का ही परिणाम था कि हमें कुछ ही वर्षों में सफलता की किरण दिखने लगी। दिल्ली में ‘विधायिका की व्यवस्था’ होने के बाद उन्होंने सशक्त सेनापति की तरह दिल्ली भाजपा को नेतृत्व प्रदान किया और 1993 के विधानसभा चुनावों में हमें सफलता मिली।

WhatsApp Image 2019 09 15 At 1.47.14 PM

प्रधान मंत्री के आहृवान पर गाजियाबाद में हुआ मैराथन रेस

Ghaziabad: विश्व ह्रदय रक्षा माह के अवसर पर वार्षिक यशोदा हाफ मैराथन के प्रथम कार्यक्रम का 15 सितंबर 2019 को 21 किलोमीटर लंबी हाफ मैराथन,  10, 5 किलोमीटर दौड़ एवं 5 किलोमीटर वॉकाथान का आज तड़के आयोजन हुआ , यह हाफ मैराथन यशोदा हॉस्पिटल कौशाम्बी से शुरू होकर हिंडन एलिवेटेड रोड तक गयी।

इस मैराथन में 1000 से भी ज्यादा लोगों ने भाग लिया । यह हाफ मैराथन प्रधानमंत्री श्री मोदी जी के हिट इंडिया फिट इंडिया अभियान से भी प्रेरित थी तथा इस यशोदा हाफ मैराथन में केंद्रीय राज्य मंत्री एवं स्थानीय सांसद जनरल वी के सिंह, मुख्य अतिथि एवं भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव श्री अरुण कुमार सिंह मुख्य अतिथि रहे । विशेष अतिथि के रूप में श्री पी के गुप्ता, प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त - उत्तर प्रदेश (पश्चिम) क्षेत्र, श्री संगीत सोम, विधायक मौजूद रहे। 

Arun

पूर्व वित्त मंत्री माननीय श्री अरुण जेटली जी का निधन देश की राजनीति लिए बहुत बड़ी क्षति: डॉ पी एन अरोड़ा

New Delhi: भारत के पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार को दिल्ली एम्स में निधन हो गया। वे 66 वर्ष के थे। उन्होंने दोपहर 12 बजकर 7 मिनट पर अंतिम सांस ली। जैसा कि विदित है किडनी ट्रांसप्लांट करवा चुके जेटली को कैंसर हो गया था। उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। पिछले दिनों राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह समेत कई नेताओं ने अस्पताल पहुंचकर उनका हालचाल जाना था। 

शोकाकुल यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के मैनेजिंग डायरेक्टर एवं वरिष्ठ समाजसेवी डॉ पी एन अरोड़ा ने  कहा कि ‘जेटली के निधन की खबर सुनकर मैं बहुत दुखी एवं स्तब्ध हूं। वे उत्कृष्ट वकील, सुलझे हुए सांसद और उत्कृष्ट मंत्री थे। देश को बनाने में उन्होंने अविस्मरणीय  अहम योगदान दिया।  श्री जेटली जी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि समर्पित करते हुए उन्होंने कहा कि ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें एवं अपने श्री चरणों में स्थान दें। खबर फैलते ही यशोदा हॉस्पिटल कौशाम्बी में सभी डॉक्टरों एवं स्टाफ में शोक की लहर दौड़ गयी । श्री अरुण जेटली जी ने ही यशोदा सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल कौशाम्बी के नए विंग का उदघाटन जून 2016 में स्वयं किया था एवं कई डॉक्टरों से उन्होंने व्यक्तिगत बात चीत भी की थी, ऐसा भी कह सकते हैं कि यशोदा हॉस्पिटल कौशाम्बी के डॉक्टर, प्रबंधन एवं स्टाफ से उनका गहरा नाता था तथा समय समय पर उनका मार्गदर्शन मिलता रहता था। यशोदा हॉस्पिटल की निदेशिका श्रीमती उपासना अरोड़ा ने इसे यशोदा परिवार के लिए एक निजी छति बताया और भारतीय राजनीति में उनका योगदान अमर रहेगा। श्री अरुण जेटली जी के निधन के बाद पूरा देश शोक में डूब गया है ।